आत्मनिर्भर भारत अभियान (Aatm Nirbhar Bharat Yojana) लाभ व पात्रता

atmanirbhar-bharat-abhiyan

atmanirbhar-bharat-abhiyan

Atma Nirbhar Bharat | Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan | पीएम मोदी आत्मनिर्भर भारत अभियान राहत पैकेज | आत्मनिर्भर भारत अभियान ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | आत्म निर्भर योजना लाभ |

आपदा को अवसर में बदलने के लिए माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने  दिनांक 12 मई 2020 को राष्ट्र को संबोधित करते हुए एक बहुत ही बडे अभियान   (आत्मनिर्भर भारत अभियान) की शुरुआत की है। जो  COVID -19  महामारी के इस संकट की घडी से लड़ने में आत्मनिर्भर भारत अभियान (Aatm Nirbhar Yojana)  निश्चित रूप से एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी  और एक आधुनिक भारत की शुरुआत होगी | पीएम मोदी इस  राहत पैकेज यानि की आत्मनिर्भर भारत अभियान है जो की केंद्र सरकार के अंतर्गत  20 लाख करोड़ रुपए जो देश की जीडीपी का लगभग 10% है जो की घोषणा की गयी है |

Aatm Nirbhar Yojana- आत्म निर्भर योजना

प्यारे देशवासियों इस अभियान (योजना ) का उद्देश्य 135  करोड़ भारतवासियों को आत्मनिर्भर बनाना है ताकि देश का हर नागरिक इस संकट की घड़ी में कदम से कदम मिलाकर चल सके और कोविड-19 महामारी को हराने में अपना योगदान दे सके| प्यारे देशवासियों एक समृद्ध और संपन्न भारत के निर्माण में आत्मनिर्भर भारत अभियान निश्चित रूप से महत्वपूर्ण योगदान होगा।  प्रधानमंत्री आर्थिक राहत पैकेज में सभी सेक्टरों की अबसर बढ़ेगी और गुणवत्ता भी सुनिश्चित होगी | इस योजना के ज़रिये देश की अर्थ व्यवस्था को 20 लाख करोड़ रूपये का सहयोग मिलेगा |

आत्मनिर्भर भारत अभियान नई अपडेट

हमारे देश के प्रधानमंत्री जी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए US-इंडिया बिजनेस काउंसिल (USIBC) द्वारा आयोजित इंडिया आइडियाज शिखर सम्मेलन में भाषण दिया। इस वीडियो कॉन्फ्रेंस में मोदी जी ने कहा है कि पिछले छह वर्षों के दौरान हमने अपनी अर्थव्यवस्था को अधिक सुधार योग्य बनाने के लिए कई प्रयास किए हैं। इन सुधारों की वजह से प्रतिस्पर्धात्मकता, पारदर्शिता, डिजिटाइजेशन, इनोवेशनऔर पॉलिसी स्थिरता बढ़ी है। और उन्होंने कहा है कि भारत आपको स्वास्थ्य सेवा में निवेश करने के लिए आमंत्रित करता है। भारत में हेल्थकेयर सेक्टर हर साल 22.प्रतिशत से भी अधिक तेजी से बढ़ रहा है। इस अभियान के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर मानव संसाधन विकास मंत्रालय के विशेषज्ञों ने छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों के तनाव को दूर करने के लिए पहली मनोवैज्ञानिक मनोदर्पण गाइडलाइन बनायी है।

Aatmnirbhar Bharat Toll Free Number

केंद्र सरकार ने आत्मनिर्भर भारत के तहत स्कूल और उच्च शिक्षण के छात्र टोल फ्री नंबर 8448440632 जारी किया है। इस टोल फ्री नंबर कि सहायता से देश के लोग अपने बच्चो कि पढाई में कोई परेशानी आती है तो वह इस टोल फ्री नंबर पर संपर्क कर सकते है। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री ने मंगलवार को इस मनोदर्पण योजना की शुरुआत की। इससे पहले केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने 17 मई को आत्मनिर्भर भारत के तहत मनोदर्पण शुरू करने की घोषणा की थी।

आत्मनिर्भर भारत ऍप

हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने लिंक्डइन की पोस्ट के लिंक को साझा करते  हुए 4 जुलाई 2020 को  ट्वीट करते हुए @GoI_MeitY और @AIMtoInnovate  आत्‍मनिर्भर भारत ऐप इनोवेशन चैलेंज को लॉन्च किया है | आत्मनिर्भर भारत ऍप को आत्‍मनिर्भर भारत मिशन के तहत स्‍टार्ट-अप और टेक कम्‍युनिटी की मदद के लिए लांच किया गया है | इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्वीट किया कि प्रधानमंत्री ने भारतीय ऐप निर्माताओं और नवोन्मेषकों को प्रोत्साहित के लिए इस ऍप को शुरू किया गया है | इस ऍप के माध्यम से देश के युवाओ को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया जायेगा |मोदी ने कहा कि भारत में एक गतिशील प्रौद्योगिकी और स्टार्ट-अप पारिस्थितिकी तंत्र है जिसने भारत को राष्ट्रीय ही नहीं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गौरवान्वित किया है |

(Narendra Modi Ji Tweets Images)

आत्मनिर्भर भारत ऐप इनोवेशन चैलेंज

भारत ने डिजिटल स्‍ट्राइक करते हुए चीन के 59 ऐप्‍स को बैन कर दिया है जिसके बाद भारत सरकार द्वारा आत्मनिर्भर भारत ऍप को लॉन्च किया गया है |आत्मनिर्भर भारत ऐप इनोवेशन चैलेंज दो ट्रैक पर काम करेगा | ट्रैक-1 मिशन मोड में काम करते हुए अच्‍छी क्‍वालिटी के ऐप्‍स की पहचान करेगा |ट्रैक-2 के तहत नए ऐप्‍स और प्‍लेटफॉर्म बनाने के लिए आइडिएशन के स्‍तर से लेकर के बाजार की पहुंच तक सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी | इस ऍप  के माध्यम से मौजूदा ऐप्‍स को प्रोत्‍साहन. ई-लर्निंग, वर्क फ्रॉम होम, गेमिंग, बिजनेस, एंटरटेनमेंट, ऑफिस यूटिलिटीज और सोशल नेटवर्किंग की श्रेणियों वाले ऐप्‍स को सरकार गाइड करने के साथ सपोर्ट करेगी |

पीएम नरेंद्र मोदी जी की नयी घोषणा

हमारे देश के प्रधानमंत्री जी ने भारत देश को योजना के माध्यम से और मजबूत बनाने के लिए एक नयी घोषणा की है | जिससे कोरोना वायरस की वजह से देश की जो अर्थव्यवस्था बिगड़  गयी है उन्हें सुधारा जा सके और देश के लोगो को आत्मनिर्भर बनाया जा सके | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने मगलवार को भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) के सालाना बैठक को संबोधित किया। इस बैठक में पीएम मोदी जी ने कहा है कि हमारी सरकार प्राइवेट सेक्टर को देश की विकास यात्रा में साझीदार मानती है भारत को फिर से तेज़ विकास के पथ पर लाने के लिए, आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए 5 चीजें बहुत ज़रूरी हैं | जो हमने नीचे दी हुई है

  • इंटेंट यानी इरादा
  • इन्क्लूजन यानी समावेशन
  • इन्वेस्टमेंट यानी निवेश
  • इन्फ्रास्ट्रक्चर यानी बुनियादी ढांचा
  • इनोवेशन यानी नवोन्मेष

 3 माह में पीपीई किट की सैकड़ों करोड़ की इंडस्ट्री

पीएम ने कहा, अब तो गांव के पास ही लोकल एग्रो प्रोडक्ट्स के क्लस्टर्स के लिए ज़रूरी इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार किया जा रहा है। इसमें CII के तमाम मेंबर्स के लिए बहुत अवसर हैं।पिछले तीन महीने में ही पीपीई की करोड़ों की इंडस्ट्री भारतीय उद्यमियों ने ही खड़ी की है।प्रधानमंत्री जी का कहना है  कि देश में मेक इन इंडिया को रोजगार का बड़ा माध्यम बनाने के लिए कई प्राथमिक सेक्टर्स की पहचान की गई है। अब तक तीन सेक्टर पर काम शुरू भी हो चुका है। पीएम मोदी ने कहा, ‘जरूरत है कि देश में ऐसे उत्पाद बनें, जो मेड इन इंडिया हो और मेड फॉर द वर्ल्ड हो।आत्मनिर्भर भारत अभियान से जुड़े हितधारकों की हर जरूरत का ध्यान रखा जाएगा।

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan New Update

देश में कोरोना महामारी से लॉकडाउन के कारण नाई की दुकानें, मोची, पान की दूकानें व कपड़े धोने की दूकानें, रेहड़ी-पटरी वालों की आजीविका पर सबसे ज्‍यादा असर पड़ा है इस समस्या को ख़त्म करने के लिए प्रधानमंत्री जी के द्वारा आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत एक नई योजना की घोषणा की है इस योजना का नाम है पीएम स्वनिधि योजना | इस योजना के अंतर्गत रेहड़ी पटरी वालो को सरकार द्वारा 10000 रूपये का लोन मुहैया कराया जायेगा | इस योजना के अंतर्गत ये अल्पकालिक सहायता रु 10,000 छोटे सड़क विक्रेताओं को अपना काम फिर से शुरू करने में सक्षम बनाएंगे |इस योजना के ज़रिये आत्मनिर्भर भारत अभियान को गति मिलेगी |